• Helpline Number : +91-9166960485 There you Can Find Every Problems Solution.

1. यदि पति-पत्नी के मध्य तनाव अधिक रहता हो तीन गोमती चक्र लेकर घर के दक्षिण में हलूं बलजाद कहकर फेंक देंने से सम्बन्ध सुधरने लगते है।

2. यदि कोई स्त्री अपने सास ससुर और घर के सभी सदस्यों को सच्चे, निश्चल मन से पूर्ण आदर सम्मान दें तो उस का दाम्पत्य जीवन सदा हर्ष और उल्लास से भरा रहता है ,उस घर में कभी भी आर्थिक संकट नहीं आता है और सबसे बड़ी और प्रमुख बात है की उस स्त्री के माता पिता को भी अपने परिवार में किसी भी प्रकार की कोई भी दिक्कत नहीं आती है उनका पारिवारिक जीवन भी निश्चिय ही सुखमय बीतता है । यह बहुत ही अभूतपूर्व और परीक्षित उपाय है ।

3. यदि पति-पत्नी में से कोई भी दूसरे से नाराज़ है तो खुमी का पुष्प एक माशा शहद में मिलकर खिलाने से उनके बीच का मनमुटाव दूर हो जाता है उनका पुन: मेल हो जाता है।

4. दि किसी स्त्री का पति बहुत ज्यादा क्रोध करता हो तो वह स्त्री शुक्ल पक्ष के प्रथम रविवार,सोमवार,गुरुवार या शुक्रवार किसी भी दिन नए सफ़ेद कपड़े में एक डली गुड़, चाँदी एवं ताम्बें के 2 सिक्के, एक मुट्ठी नमक और एक मुट्ठी गेंहू को बंधकर घर में कहीं भी चुपचाप रख दें । कुछ समय बाद पति का स्वभाव बदलने लगेगा ....वह बात बात पर क्रोध करना बंद कर देगा ।

5. यदि कोई स्त्री नियमित रूप से शनिवार को चमेली का दीपक जलाकर श्री सुन्दर काण्ड का पाठ करती है,या किसी योग्य ब्राह्मण से करवाती है तो उसका घर, पति तथा बच्चे हमेशा किसी भी प्रकार की विपदा से बचे रहते है। यदि साप्ताहिक न हो सके तो भी माह में कम से कम एक बार सुंदर काण्ड घर में अवश्य ही होना चाहिए ।

6. यदि घर में पति-पत्नी के मध्य ज्यादातर क्लेश होता है तो उनमें से कोई भी शुक्लपक्ष के किसी भी शुक्रवार को सुबह स्नान करके सफ़ेद वस्त्र धारण करके कम मीठे सफ़ेद चावल बनाये,फिर उन्हें किसी बड़े पात्र में निकालकर उसमें बूरा (महीन चीनी) और शुद्ध घी मिलकर सफ़ेद गाय को खिलाएं । इस प्रकार लगातार 21 शुक्रवार तक करने से दोनों के बीच क्लेश ख़त्म हो जायेगा।

7. रविवार की रात्रि में स्त्री थोडा सा सिंदूर पति के सोने वाले हिस्से में बिस्तर पर बिखरा दें और सोमवार की सुबह स्नान के बाद माँ पार्वती का नाम लेते हुए जितना भी सिंदूर मिल जाये उससे अपनी माँग भर लें ....उसके सुहाग की उम्र लम्बी होगी।

8. यदि कोई पति अपनी पत्नी से प्रेम नहीं करता है तो वह स्त्री लाल रंग की कपड़े की थैली में पीली सरसों के साथ दो अभिमंत्रित गोमती चक्र जिसमें एक में उस स्त्री और दूसरे में उसके पति का नाम लिखा हो इनको थैली में बंद करके अपने पास कहीं छुपा कर रख दें .....पति अपनी पत्नी से प्रेम करने लगेगा।

9. विवाह के बाद केवल पति-पत्नी ही नहीं पूरे परिवार का जीवन बदल जाता है। सामान्यत: लाख कोशिशों के बाद भी पति-पत्नी के बीच कभी-कभी थोड़ा बहुत तनाव उत्पन्न हो जाता है। यही छोटी-छोटी तकरार लड़ाई-झगड़ों में परिवर्तित हो जाए तो ये भी सामान्य सी बात ही है। ऐसे में वैवाहिक जीवन सुखी नहीं रह पाता है। इस प्रकार की परिस्थितियों से बचने के लिए श्रीराम और सीता के फोटो की पूजा करनी चाहिए

10. शास्त्रों में वर्णित है की श्रीराम-सीता के युगल फोटो की आराधना करने पर परिवार में शांति के साथ संपूर्ण सुख-सुविधाओं की भी बढ़ोतरी होती है । भगवान श्रीराम और माता सीता का जीवन काफी कष्टों में व्यतीत होने के बाद भी उनके बीच कभी भी प्रेम कम नहीं हुआ। ठीक इसी प्रकार इनकी पूजा करने वाले दंपत्ति के मध्य भी अटूट प्रेम बना रहता है
Copyright 2019, bhvishyasagar.com